शांति नर्सिंग होम ब्लड बैंक के “ रक्दान-महादान ” अभियान ने किया एक वर्ष पूर्ण

अलीगढ़ 8 दिसम्बर। शांति नर्सिंग होम ब्लड बैंक के प्रथम स्थापना दिवस का शुभारम्भ हड्डी रोग विशेषज्ञ डाॅ वीरेंद्र चैधरी, स्त्री रोग विशेषज्ञ डाॅ सुरेखा चैधरी, डाॅ माधव चैधरी, डाॅ कल्पना बघेल, डाॅ शुगुफ्ता जुबैरी, ब्लड बैंक इंचार्ज संजय जैन ने दीप प्रज्जवलित कर किया। ब्लड बैंक मेडिकल आॅफीसर डाॅ सुरेखा चैधरी ने बताया कि “ आज से एक वर्ष पूर्व 8 दिसंबर 2016 को रक्तदान-महादान अभियान को शुरू करने हेतु ब्लड बैंक की स्थापना की गई। एक वर्ष में 4500 से अधिक लोगों ने रक्तदान किया। साथ ही अभियान में चैधरी एजूकेशन ट्रस्ट, समृद्धि संस्था, किवानीज क्लब, सोच, आईआईएमटी, शांतिनिकेतन वल्र्ड स्कूल आदि सामाजिक व शैक्षिक संस्थाओं ने भरपूर सहयोग प्रदान किया। ” डाॅ वीरेंद्र चैधरी ने कहा कि “ समाज में रक्तदान के प्रति भ्रांतियों को दूर करने के लिए लगातार प्रयास जारी है। लोगों में रक्तदान के प्रति रूझान बढ़ रहा है। हम सभी को भी रक्तदान करना चाहिए और दूसरों को भी इसके लिए जागरूक करना चाहिए। ” स्थापना दिवस के अवसर पर सूरज पाल सिंह, मनोज कुमार, गौरव शर्मा, विष्णु कुमार, गिरीश वाष्र्णेय, कोमल कुमार, गुलशन सैनी, विशाल सैनी आदि ने रक्दान किया और सैंकडों लोगों ने रक्तदान के लिए संकल्प पत्र भरा। इस दौरान डाॅ प्रियंका चैधरी, डाॅ अब्दुल्ला, डाॅ राशिद, सतीश जैसवाल, चंद्रप्रकाश गुप्ता, मोहित जाॅन, डाॅ अग्रवाल, अरविंद शर्मा, दिलीप बरूआ, श्यामबाबू शर्मा, चमन शर्मा, अरीना खान, हेमा सिंह, अखिलेश यादव आदि उपस्थित थे।

Laws to protect buying essays online slavery would have to be voted on by the territorial legislatures.