घुटना प्रत्यारोपण पर अपोलो सुपर स्पेशलिटी ओपीडी अब शांति नर्सिंग होम में

marij ki repot dekhte dr vipul vijay

अलीगढ़ 8 अक्टूबर। इंद्रप्रस्थ अपोलो हाॅस्पीटल, दिल्ली के विख्यात ओर्थोपेडिक, जोइंट रिप्लेसमेंट, ओर्थोपेडिक सर्जन व एसोसिएट प्रोफेसर डाॅ विपुल विजय की सुपर स्पेशलिटी ओपीडी का आयोजन शांति नर्सिंग होम में किया गया, जिसमें दूर-दूर से आए घुटनों की समस्या से परेशान मरीजों की जांच कर, उन्हें उचित परामर्श दिया गया। घुटना प्रत्यारोपण के लिए विख्यात डाॅ राजू वैश्य ने बताया कि प्राकृतिक जीवन शैली से दूर होकर एसी युक्त जीवन यापन से लगातार घुटनों की समस्याऐं बढ़ रही हैं। वज़न का ज्यादा बढ़ना, शरीर में विटामिन डी की कमी, बार-बार सीढ़ी चढ़ना-उतरना, ज्यादा देर तक खड़े रहकर काम करना, भारतीय सामान्य टाॅयलेट सीट पर अधिक समय बैठना आदि भी घुटनों की समस्या को बढावा दे रहीं हैं। उन्होंने बताया कि घुटना प्रत्यारोपण अब अधिक खर्चीला नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा घुटना प्रत्यारोपण के पार्ट की कीमत में कमी के कारण अब यह अपोलो में मात्र 1 लाख 80 हजार में ही कराया जा सकता है। वरिष्ठ हड्डी रोग विशेषज्ञ डाॅ वीरेंद्र चैधरी ने बताया कि आगामी 12 नवंबर को पुनः अपोलो के सीनियर चिकित्सक घुटनों से सबंधित परामर्श प्रदान करेंगे। यक श्रंखला अब हर माह के दूसरे रविवार को जारी रहेगी। ओपीडी में राजेंद्र पाल सिंह, विमल शुक्ला, आशा गुप्ता, दिनेश अग्रवाल, प्रदीप कुमार, पिंकी, यातुल, प्रेमवती, मालती वाष्र्णेय आदि ने चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त किया। इस दौरान डाॅ सुरेखा चैधरी, डाॅ शुगुफता जुबैरी, डाॅ कल्पना बघेल, अखिलेश यादव, अरविंद शर्मा, संजय जैन, श्यामबाबू शर्मा, अरीना खान, पवन राई, हेमा सिंह, दिलीप बरूआ, मोंटी, निधि, सोनी , ललित, डैजी आस्तिन, चमन शर्मा उपस्थित थे।