Press Releases

SONY DSC

आइआइएमटी में “ रक्तदान स्वयं और सभी के लिए ” का लिया गया संकल्प
अलीगढ़ 23 दिसम्बर। इंस्टीट्यूट आॅफ इन्फोरमेशन मैनेजमेंट एण्ड टैक्नोलाॅजी, अलीगढ़ में शांति नर्सिंग होम ब्लड बैंक के तत्वावधान में “ रक्तदान स्वयं और सभी के लिए ”  दो दिवसीय रक्तदान जागरूकता सम्मेलन का शुभारम्भ संस्थापक डाॅ डी.एस. महलवार, प्राचार्य शंभू के.एन. सिंह रावत, परीक्षा नियंत्रक जितेंद्र महलवार ने दीप प्रज्जवलित कर किया।  संस्थापर्क डाॅ डी.एस. महलवार ने कहा कि रक्तदान रक्तदाता की सेहत के लिए उतना ही जरूरी है , जितना रक्त लेने वाले के लिए। रक्तदान से खून पतला होता है जिससे हार्ट अटैक की आशंका कम हो जाती है। साथ ही मन को भी सुकून मिलता है कि खून किसी के तो काम आया। प्राचार्य शंभू के.एन. सिंह रावत ने रिसर्च के मुताबिक नियमित ब्लड डोनेशन से शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ बाहर निकलते रहते हैं। रक्तदान से अन्य को भी जीवन मिलता है। रक्तदान एक व्यवसाय न होकर समाज के प्रति मनुष्य का दायित्व है। पहले दिन 350 से अधिक छात्र-छात्राओं ने रक्तदान का संकल्प लिया। डाॅ माधव चैधरी, डाॅ सुहैब आरिफ, डाॅ  संजय जैन, डाॅ फरहीन कुलसुम, डाॅ उज्जवल सिंहल, अखिलेश यादव, पवन राय, उमेश कुमारी की टीम ने सभी का रक्तदान संकल्प पत्र भरा, उनका ब्लड ग्रुप जांचा। रक्तदान संकल्प पत्र भरने वालों से शांति नर्सिंग होम ब्लड बैंक ने आगामी 25 दिसम्बर को रामघाट रोड़ स्थित शांति नर्सिंग होम पर विशाल रक्तदान शिविर में प्रातः 10 बजे से सांय 5 बजे रक्तदान करने की अपील की। इस दौरान जितेंद्र यादव, डाॅ इंदू सिंह, राजेश कुमार, चमन शर्मा आदि ने भी रक्तदान पर अपने विचार व्यक्त किए। सम्मेलन का संचालन प्रो आई. पी. सिंह ने किया।